अकबर बीरबल की कहानियां :-  एक बार अकबर और बीरबल के बीच मे बात चल रही थी तभी अकबर ने कहा भी बीरबल मेरे एक सवाल का जवाब दो क्या तुम बता सकते हो

Akber birbal ki kahaniya

दुनिया में देखने वाले ज्यादा लोग हैं या अंधे लोग ज्यादा है तो इस पर बीरबल ने कहा आपके यह सवाल का जवाब मैं तुरंत नहीं दे सकता मुझे कुछ समय दीजिए पर मैं आपके इस सवाल का जवाब जरूर दूंगा


लेकिन बीरबल ने कहा कि मुझे लगता है कि अंधों की संख्या ज्यादा है, तो उस पर अकबर ने कहा यह तुम कैसे कह सकते हो , तुम्हें अपनी यह बात को सिद्ध करके मुझे दिखाना होगा तो इस पर बीरबल ने कहा जी हुजूर मैं आपको यह बात जरूर सिद्ध करके दिखाऊंगा

बीरबल बादशाह की चुनौती स्वीकार कर ली


अगले ही दिन बीरबल गांव के चौक में बिना बुनी हुई चारपाई लेकर बैठ गया और उसके बाजू में वही 2 आदमी को कागज और कलम लेकर बैठा दिया और कहा कि जो भी मुझसे पूछे तुम क्या कर रहे हो उसका तुम उसका नाम लिख लेना

थोड़ी देर बाद गांव के चौक में भीड़ लग गई कि बीरबल क्या कर रहा है थोड़ी देर लोग उन्हें वैसे ही देखते रहे फिर लोगों के मन में रहा नहीं गया उनमें से एक एक आदमी बीरबल को पूछता गया

कि यह तुम क्या कर रही हो और जैसे ही कोई आदमी बीरबल को पूछता बीरबल के पास में बैठा वाला आदमी उसका नाम लिख लेता, परंतु बीरबल कोई जवाब नहीं देता
अकबर की सबसे खूबसूरत तस्वीर

ऐसे करते-करते शाम हो गई और बहुत सारे लोगों ने बीरबल से उनको यह है कि सवाल पूछा , फिर यह बात अकबर को पता चली तो ,अकबर भी बीरबल को देखने वहां पहुंचे तो अकबर ने भी बीरबल को पूछ लिया कि यह तुम क्या कर रहे हो और यह सवाल पूछते ही उनके बाजू में बैठा व्यक्ति ने अकबर का नाम भी लिख लिया

अकबर मैंने देखा कि बीरबल के बाजू में बैठा व्यक्ति कागज में कुछ लिख रहा है तो उन्होंने अपने सैनिक को बोला कि वह कागज मुझे लाकर दे वह सैनिक जैसे ही कागज को लाकर देता है कागज में सबसे ऊपर में लिखा रहता है अंधों की सूची

महाराज ने बीरबल से पूछा कि इस सूची में मेरा नाम क्यों है तो उस पर बीरबल ने जवाब दिया आप देख ही रहे हैं कि मैं अपनी चारपाई बुन रहा हूं फिर भी लोग मुझसे यह सवाल पूछ रहे हैं

Moral story in hindi खम्बे ने पकड़ रखा है

महाराज ने देखा कि उस सूची में बिना देखने वाले लोगों का एक भी नाम नहीं है पर देखने वालों के बहुत सारे नाम है 

इस पर अकबर ने कहा कि मुझे तुम्हारी बात समझ में आ गई क्योंकि तुम चौक में बैठ कर अपना काम कर रही हो अपनी चारपाई बुन रहे हो , पर फिर भी लोग देखकर तुमसे यह पूछ रहे हैं कि तुम क्या कर रहे हो तो इस प्रकार बीरबल ने अपनी बात साबित कर दी कि दुनिया में अंधे लोगों की गिनती ज्यादा है

Post a Comment

Please do not enter any link in the comment box.

और नया पुराने